भर दो झोली मेरी Bhar Do Jholi Meri Lyrics - Adnan Sami

Bhar Do Jholi Meri Lyrics - Adnan Sami 


Bhar Do Jholi Meri lyrics, in hindi from movie Bajrangi Bhaijaan (2015) sung by Adnan Sami. while Lyrics are written by Kausar Munir. And Composed by Pritam. Starring Salman Khan, Kareena Kapoor. Music video is released by T-Series youtube channel.

Bhar Do Jholi Meri Lyrics in hindi- Adnan Sami



Song credits-:

SONG: BHAR DO JHOLI MERI 
SINGER: ADNAN SAMI
SONG: TRADITIONAL
MUSIC RECREATED BY: PRITAM
LYRICS: KAUSAR MUNIR
MUSIC LABEL: T-SERIES


Bhar Do Jholi Meri Lyrics

Tere darbaar mein dil thaam ke woh aata hai
Jisko tu chaahe, hey Nabi tu bulaata hai
Tere dar pe sar jhukaaye main bhi aaya hoon
Jiski bigdi haaye Nabi tu chaahe banata hai..
Bhar do jholi meri ya Muhammad,
Laut kar main naa jaaunga khali..

Band deedon mein bhar daale aansu
Sil diye maine dardo ko dil mein

Jab talak tu bana de na tu bigdi
Dar se tere na jaaye sawaali

Bhar do jholi meri ya Muhammad,
Laut kar main naa jaaunga khali
Khaali…

Bhar do jholi.. aaka ji
Bhar do jholi.. hum sab ki
Bhar do jholi.. Nabi ji
Bhar do jholi meri Sarkar-e-Medina
Laut kar main naa jaaunga khali

Khojte khojte tujhko dekho
Kya se kya, ya Nabi ho gaya

Bekhabar dar-ba-dar phir raha hoon
Main yahan se wahan ho gaya hoon

De de ya Nabi mere dil ko dilaasa
Aaya hoon door se main hoke ruhaasa

Kar de karam Nabi, mujhpe bhi zara sa
Jab talak tu.. jab talak tu..
Panaah de na dil ki
Dar se tere na jaaye sawaali

Bhar do jholi meri ya Muhammad
Laut kar main na jaaunga khaali

Bhar do jholi meri Tajdaar-e-Medina
Laut kar main na jaaunga khaali

Bhar do jholi meri ya Muhammad
Laut kar main na jaaunga khaali

Jaanta hai na tu kya hai dil mein mere
Bin sune gin rahaa hai na tu dhadkane

Aah nikli hai toh chand tak jaayegi
Tere taaron se meri duaa aayegi

Aye Nabi haan kabhi toh subah aayegi
Jab talak tu sunega na dil ki
Dar se tere na jaaye sawaali

Bhar do jholi meri ya Muhammad
Laut kar main na jaaunga khaali

De taras kha taras mujhpe aaka
Ab lagaa le tu mujhko bhi dil se

Jab talak tu mila de na bichhdi
Darr se tere na jaaye sawaali
Bhar do jholi meri ya Muhammad
Laut kar main na jaaunga khaali

Bhar do jholi.. aaka ji
Bhar do jholi.. hum sab ki
Bhar do jholi.. Nabi ji
Bhar do jholi meri Sarkar-e-Medina
Laut kar main naa jaaunga khali

Dum dum Ali Ali dum Ali Ali
Dum Ali Ali dum Ali Ali...



Bhar Do Jholi Meri Lyrics in hindi

Bhar Do Jholi Meri Lyrics in hindi

तेरे दरबार में दिल थाम के वो आता है
जिसको तू चाहे, हे नबी तू बुलाता है

भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली
भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

बांध दीदों में भर डाले आंसू
सील दिए मैंने दर्दों को दिल में
बांध दीदों में भर डाले आंसू
सील दिए मैंने दर्दों को दिल में

जब तलक तू बना दे ना तू बिगड़ी
दर से तेरे ना जाए सवाली

भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

भर दो झोली आका जी
भर दो झोली हम सबकी
भर दो झोली नबी जी
भर दी झोली मेरी सरकार-ए-मदीना
लौट कर मैं ना जाऊँगा खाली

खोजते खोजते तुझको देखो
क्या से क्या, या नबी हो गया

खोजते खोजते तुझको देखो
क्या से क्या, या नबी हो गया

देखबर दर-ब-दर फिर रहा हूँ
मैं यहाँ से वहां हो गया हूँ
देखबर दर-ब-दर फिर रहा हूँ
मैं यहाँ से वहां हो गया हूँ

दे दे या नबी मेरे दिल को दिलासा
आया हूँ दूर से मैं होके रुहासा
दे दे या नबी मेरे दिल को दिलासा
आया हूँ दूर से मैं होके रुहासा

कर दे करम नबी, मुझपे भी ज़रा सा
जब तलक तू, जब तलक तू
पनाह दे ना दिल की
दर से तेरे ना जाए सवाली

भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली
भर दी झोली मेरी सरकार-ए-मदीना
लौट कर मैं ना जाऊँगा खाली
भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

जनता है ना तू क्या है दिल में मेरे
बिन सुने गिन रहा है ना तू धड़कने
जनता है ना तू क्या है दिल में मेरे
बिन सुने गिन रहा है ना तू धड़कने

आह निकली है तो चाँद तक जायेगी
तेरे तारों से मेरी दुआ आएगी
आह निकली है तो चाँद तक जायेगी
तेरे तारों से मेरी दुआ आएगी

ए नबी हाँ कभी तो सुबह आएगी
जब तलक सुनेगा ना दिल की
डर से तेरे ना जाए सवाली

भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

दे तरस खा तरस मुझपे आका
अब लगा ले तू मुझको भी दिल से
दे तरस खा तरस मुझपे आका
अब लगा ले तू मुझको भी दिल से

जब तलक मिला दे ना बिछड़ी
दर से तेरे ना जाए सवाली
भर दो झोली मेरी या मुहम्मद
लौट कर मैं ना जाऊंगा खाली

भर दो झोली आका जी
भर दो झोली हम सबकी
भर दो झोली नबी जी
भर दी झोली मेरी सरकार-ए-मदीना
लौट कर मैं ना जाऊँगा खाली

दम दम अली अली दम अली अली
दम अली अली दम अली अली...

This is the end of Bhar Do Jholi Meri song lyrics. Hope you enjoy it. And stay connected for latest song lyrics. Found any mistake in lyrics? please share correct lyrics in comment section. thank you.

FULL VIDEO OD BHAR DO JHOLI MERI

Post a Comment

0 Comments